गलत तरीके से पाई गई शोहरत , सफलता , प्रतिष्ठा कभी सही दिशा प्रदान नहीं कर सकती

October 12, 2019

बहुत कम लोग है  जो अपने जीवन में अपार सफलता प्राप्त कर पाते है 


कोई कहता है सफलता मेहनत से मिलती है, कोई  कामयाबी के लिए  पुराने संस्कारों  को  जिम्मेदार ठहराता  है  , कोई  कर्मो के  फल को सफलता  मानता  है, तो  कोई किस्मत को सफलता मानता  है ,  कितने ही   लोग है जी तोड़ मेहनत करते है रात  दिन एक कर देते  है  मेहनत के बावजूद  सारी  उम्र वो सफलता की आस में निकल देते है |  परन्तु जीवन भर उन्हें कामयाबी नहीं   मिल पाती | कुछ लोग संस्कारो को कामयाबी मानते है इसके लिए वो पूजा पाठ जप तप सब कुछ करने को तैयार हो जाते है लेकिन बावजूद इसके वे अपनी मंजिल तक नहीं पहुंच पाते  है |  कुछ लोगों  का मानना है की  सफलता किस्मत पर भी निर्भर करती है कई लोग अपनी किस्मत बदलने के लिए  ज्योतिषियों से सलाह लेते है वास्तुशास्त्रियों के   अनुसार कार्य करते है परन्तु फिर भी बहुत कम लोग है   जो  अपने जीवन में अपार सफलता प्राप्त कर पाते है  |

https://images.app.goo.gl/D8j4ubbLCS7DfJPq8



 परिवार के लोग ही  आदर्श वाद से दुखी रहते है तो ये कैसी  सफलता है ?

  कई लोग है जो जीवन में अच्छे कर्म भी करते है परन्तु वो फिर भी जीवन भर गरीबी में जीवन जीते है |  इसके विपरीत बहुत से लोग है जो न तो बहुत ज्यादा पूजा पाठ करते है ना  ही  वो संस्कारो के नियमानुसार जीवन जीते है  | अच्छे बुरे काम भी वो करते है  |  उनके पास अथाह धन दौलत  भी होती है | लोग उन्हें सलाम  भी करते है | वो भले ही पैसो के दम पर अपने आप को सफल कहे परन्तु  कई  बार लोग उन्हें भी सफल नहीं मानते और वक्त आने पर उन्हें भी धूल चटा देते है |  तब  दुनिया उन्हें भी सफल नहीं मानती | कई  व्यक्ति अपने आदर्शों  पर चलकर जीवन भर संघर्ष कर अपने आप को सफल कहने की कोशिश करते है |   लेकिन उनके  परिवार के लोग ही उनके आदर्श वाद से दुखी रहते है तो ये कैसी  सफलता है ?   कभी हम   उस व्यक्ति को सफल मानते रहते है जिसके पास अथाह धन दौलत है  |   लेकिन ज्योंहि  उसके धन दौलत  के काले  कारनामे समने आने लगते है लोगो की नजर में वो असफल व्यक्ति हो जाता है |  तब हम दूसरो पर भी विश्वास करना छोड़ देते है  |
https://images.app.goo.gl/uoCv6J9Jkct7roUa7


 गलत तरीको को अपनाकर शोहरत पाना सफलता नहीं है

  कई बार साधु संत सन्यासी बहुत  पहुंचे हुए प्रतीत होते है  उनके जीवन यापन की शानो शौकत  देख कर लोग उनसे प्रभावित हो जाते है और उन्हें सफल व्यक्ति समझने लगते है |  परन्तु जब उनके काले कारनामे सामने आने लगते है तब उनकी सफलता असफलता सामने आने लगती है  | कई  प्रतिष्ठित लोग हमे सफल अवश्य नजर आते है परन्तु उनके अंदरूनी जीवन से हम परिचित नहीं हो पाते है  जब तक उनके जीवन का काला सच हमारे सामने नहीं आता हम उनसे प्रभावित होकर उन्हें सफल व्यक्ति कहते रहते है और उन्ही से प्रभावित होकर हम अपनी जीवन शैली को बनाने की कोशिश करते है |   उसे ही सफलता समझने लगते है जो सही नहीं है  |   गलत तरीको को अपनाकर शोहरत पाना सफलता नहीं है  |  दोस्तों वास्तव में  सफलता कामयाबी ऐसा मुद्दा है जिसे अधिकतर लोग  सिर्फ धन दौलत  और सम्पति से आंकते है यह एक कड़वी सच्चाई है |

                                                                  google image


 हमे ऐसे लोगो से सावधान रहना चाहिए जो  -----------

दुनिया में कई  लोग आज भी ऐसे  है जिन्होंने अपने परिवार के लिए बहुत कुछ किया है |  किसी ने समाज के लिए बहुत कुछ किया है |  किसी ने पर्यावरण के क्षेत्र में अच्छा नाम कमाया है |  किसी ने  विज्ञानं के  क्षेत्र में अच्छा काम किया है  | कोई खेलो में सफल हुआ है परन्तु समाज में रूतबा उन्ही का कायम रहा है जिनके पास अथाह  धन दौलत होती है  |  समाज मान सम्मान और प्रतिष्ठा ऐसे ही लोगो को देता है जिनके पास पैसा होता है \   सफलता का यह आंकलन  आज की इस युवा पीढ़ी को पैसे की और दौड़ा रहा है  |  और यही वजह है की आज लोग  पैसा कमाने के लिए अपराध का रास्ता  भी चुन लेते है |  हमे ऐसे लोगो से सावधान रहना चाहिए जो धन सम्पति के लिए अपराध करने को तैयार हो जाते है  क्योकि गलत तरीके से पाई गई शोहरत , सफलता , प्रतिष्ठा  कभी परिवार को समाज को कभी सही दिशा प्रदान नहीं कर सकती |

लेख आपको कैसा लगा अपने अमूल्य सुझाव हमे अवश्य दे आर्टिकल यदि पसंद आया हो तो like , share,follow करें | 

No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.