ज्यों ही पत्नी ने मांगी सोने की चीज पति ने थमा दी ये चीज

October 12, 2019
ये है मजेदार जोक्स 

 कई  बार किसी भी बात के दो अर्थ निकल जाते है  |और दो अर्थों  वाले संवाद लोगो के सोचने और समझने के अंदाज से बात का अर्थ बदल देते है |  और उसी से  निकल जाती है कोई हंसी मजाक की बात जो ठहाके लगाने पर मजबूर कर देती है  |  ये बाते  हमारी दैनिक जीवन की छोटी छोटी बातो से निकलती है |  जो लोग इन को मनोरंजन का माध्यम मान लेते है वो अपने जीवन को हंसी ख़ुशी जी लेते है |  जो लोग इन्हे दिल पे ले लेते है वो अपने आप को  दुखी कर लेते है | वो ये नहीं समझ पाते है की ये दो दिन की जिंदगानी है इसे हंसी ख़ुशी से जी कर जीवन को सफल बनाना चाहिए  |  आज हम इसी आपके लिए मजेदार चुटकले जिनको   पढ़  कर आप हंसी नहीं रोक पाएंगे |

पति  पत्नी और बेलन का एक अनोखा रिश्ता है

यदि पति  पत्नी के बीच  में बेलन को लेकर कोई बात आ जाये तो निश्चित रूप से पति  को पत्नी पीड़ित माना  जाता है |  चाहे बेचारी पत्नी अपने पति  को गर्म रोटी खिलाने के लिए ही बेलन का उपयोग करे  |  क्या करें  बेचारी पत्नियों?  आखिर क्यों बेलन को पत्नियों का हथियार माना जाता है ? इन दो महिलाओं  की बात चीत के  ये अंश  बेलन को हथियार मानने वाली  सोच बदलने पर मजबूर कर देंगे आपको | आपको भी महसूस होगा दुनिया में ऐसी महिलाये भी है जो बेलन का यूज पड़ोसन से मांग कर किस उद्देश्य से करती है | जो लोग बेलन की मार से पीड़ित है उनके लिए इन महिलाओं  के बात चीत के ये अंश राम बाण औषधि साबित हो सकते है |  जो महिलाये अक्सर साडी  का पल्ला कमर में खोंस कर झाड़ू या बेलन हाथ में लेकर अपने आप को पत्नी साबित करने की कोशिश करती है उन्हें इस बात से सबक लेने की जरूरत है  | 




एक पति  ने अपनी जान जोखिम में डाल कर यह जानकारी हासिल कर ही ली 

पत्नी पीड़ित पतियों ने पत्नियों के अत्याचार से दुखी होकर एक सभा का आयोजन किया  जिसमे उन्होंने बहुत बड़ा खुलासा किया |   उन्होंने बताया की संस्कारो के चलते पत्नियां जी  शब्द का इस्तेमाल करती है |  जैसे एजी , ओजी , सुनो जी  लेकिन आपको इनकी फुल फोम का जरा भी अंदाजा नहीं है |   ये तो बेचारे एक पति  ने अपनी पत्नी को बहला  फुसला कर विश्वास में लेकर  जान जोखिम में डाल कर यह जानकारी हासिल कर  ही ली |  बाद में इस  अहम जानकारी के लिए उस पति  को पत्नी पीड़ित पतियों की तरफ से प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया |   इस अहम जानकारी के कुछ अंश हम आपके लिए भी लाये है  |  ये संस्कारवान पत्नियां  पतियों के लिए जिन आदर सूचक शब्दों का इस्तेमाल करती है उनके असली अर्थ क्या है ? आपको भी हैरान कर देगा आदर सूचक शब्दों का सही अर्थ | 


ज्यों ही पत्नी ने सोने की चीज मांगी ये चीज थमा दी पति ने 

  रात दिन काम का तनाव झेल कर ज्यों  ही घर में  दाखिल होता है पत्नी  की डिमांड शुरू हो जाती है |  डिमांड पूरी  नहीं करने पर मगज मारी शुरू हो जाती है |   बाहर मगज मारी घर में मगज मारी   ऐसे में पति  कभी- कभी दुखी हो जाते है  |   लेकिन इस नोक झोंक में भी  कई  बार हास्य निकल  ही जाता है |  और ऐसे हास्य का भरपूर मजा लेना चाहिए, आनंद लेना चाहिए  |   अक्सर पति  पत्नियों की फरमाइश पूरी करते करते थक  जाता है |  क्या करे बेचारा जब हर बार पत्नी गिफ्ट में सोने की चीज ही मांगे ?  इस बार पति  भी अपना दिमाग लेकर आया था |  ज्यों  ही पत्नी ने  सोने की चीज मांगी ये चीज  थमा दी   पति  ने |   बेचारी पत्नी को काटो तो खून नहीं वाली स्थिति से गुजरना पड़ा |



लेख आपको कैसा लगा अपने अमूल्य सुझाव हमे अवश्य दे आर्टिकल यदि पसंद आया हो तो like , share,follow करें | 


No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.