सड़क पर होने लगी पैसो की बारिश

October 23, 2019
कई  बार सड़कों पर दुर्घटना वश वस्तुए बिखर जाती है कभी कभी  गलती किसी की भी  नहीं  होती है  |   अक्सर  आम जनता उन वस्तुओं  को यह सोच कर घर ले जाती है की हमने चोरी थोड़ी की  है ? हमे  तो सड़क  पर मिली  है |   परन्तु यह  तर्क कानूनी रूप से  सही नहीं  है कई बार लोग गुड़ फेथ में कानूनी कार्यवाही से  बच जाते  है  कई  बार  फंस भी  जाते है  | जब लोग  बच जाते है तो अक्सर वो इस बात की ख़ुशी मनाते देखे जा सकते है की आज तो बड़ा फायदा कमा लिया परन्तु वो इस बात से अनजान रहते है की इस छोटे से फायदे ने  परिवार के संस्कारो को  कितना गिरा दिया ? इस तरह की  घटनाऐ   हमारे बच्चों  पर क्या प्रभाव डालती है ? रिश्ते नातो  पर इनका क्या असर पड़ता है ? जानने  के लिए इस लेख को पूरा पढ़े  आज हम आपको  ऐसी ही घटनाओ के बारे में बताने जा   है जो  सड़कों  पर  घटित हुई  है |


https://images.app.goo.gl/EeGfzEUpgBSLYKZh7

यह तस्वीर जर्मनी के वेस्टोनन   शहर की है  14  दिसंबर 2018  को  जब वहां की एक चॉकलेट कम्पनी का टेंकर   लिक्विड चॉकलेट ले कर जा रहा था वो   किसी कारण से वो ओवर फ्लो हो गया  |  सर्दी की वजह से चॉकलेट सड़क पर जम गयी और फिर उसे खोद कर निकलना पड़ा |

https://images.app.goo.gl/GapWjh9zmXrUJCGw6


यह तस्वीर ईस्ट रूथर  फोर्ट की है जब 18 दिसंबर 2018  को सड़क पर पैसो की बारिश होने लगी |  हुआ यो की  जिस  ट्रक  में पैसो को ले जाया जा रहा था उसका पिछला  दरवाजा किसी कारण से खुल गया |  सड़क पर पैसे ऐसे उड़ने लगे जैसे पैसो को बारिश हो रही हो |  हर कोई पैसो को लूटने लगा बाद में पुलिस ने आकर स्थिति को संभाला और कार्यवाही शुरू की |


https://images.app.goo.gl/w6mvvCgZEkjRKnGu6


सड़क पर बिखरा तेल 29 जून  2019  को मथुरा  में हाथरस अलीगढ़ मार्ग पर  तेल से भरा टेंकर पलट गया |  तेल के  लिए लोगो की  भीड़  इकट्ठी  गई  |  वहीं  यातायात  बाधित हो  गया |  तेल फैलने से लोगों  में हड़कंप मच गया लोग  बाल्टियों एवं अन्य   बर्तनों   में  तेल भर- भर कर ले गए  | कई  ऐसी घटनाओ के और भी उदाहरण दिए जा सकते है जब भीड़ ने सड़को पर बिखरी  वस्तुओं  को अपना समझ कर उठा लिया परन्तु इससे आपका कोई भला नहीं होने वाला बल्कि आपके बच्चो के संस्कार प्रभावित होंगे उनकी नजर अक्सर मुफ्त की चीजों  को ढूंढेगी | फिर वो अड़ोस पड़ोस  या रिश्तेदारों के बीच  भी इस तरह की हरकत कर सकते है  जो पारिवारिक और सामजिक रिश्तो के लिए घातक हो सकता है  | फिर इन्ही बातो से परिवार की छवि खराब होने लगती है | फिर कभी आपको भी सुनने को मिल सकता है ये ही संस्कार सिखये है आप ने अपनी औलाद को |

 इसलिए हमे कभी भी सड़क पर बिखरी चीज को नहीं उठाना  चाहिए ना ही किसी की चीज को बिना अनुमति के उपयोग करना  चाहिए  क्योकि उस पर हमारा  कोई अधिकार नहीं बनता  |  बल्कि जिस किसी का भी  नुकसान हुआ है  हमे उसकी  मदद करनी  चाहिए या  पुलिस  को  सूचित करना चाहिए |   यह हमारी नैतिक जिम्मेदारी होनी  चाहिए ताकि हमारी आने वाली पीढ़ी भी उसका अनुसरण कर सके इंसान जो बोता है वही  काटता है  ये हमेशा ध्यान रखें  |जैसा आप करोगे  बच्चे वैसा ही करेंगे   जब आप अपने काम को ईमानदारी से करेंगे तो बच्चे  भी ईमानदारी जरूर अपनायेंगे  और ये आपको छोटी छोटी ईमानदारिया  दिखाकर ही सिखाना पड़ेगा |  बच्चों  को ये संस्कार सीखाने की सबसे बड़ी जिम्मेदारी माता पिता की होती है |

लेख आपको कैसा लगा अपने अमूल्य सुझाव हमे अवश्य दे आर्टिकल यदि पसंद आया हो तो like , share,follow करें | 

No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.