गुरु तो वो होता है जो हमे तर्क संगत बात करने के लिए प्रेरित करे

September 06, 2019
 शिक्षक दिवस है हमारे देश के दूसरे राष्ट्रपति डॉ-राधाकृष्णन का जन्म दिवस सम्पूर्ण राष्ट्र में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है | एक शिक्षक के रूप में उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता यह बात सच है परन्तु यह भी उतना ही सच है की अन्य शिक्षकों के योगदान को भी नहीं भुलाया जा सकता लेकिन  उसके लिए  हमे शिक्षा और शिक्षक दोनों का अर्थ समझना होगा आखिर शिक्षा होती क्या है  ?और एक शिक्षक क्या होता है ? आज असल में हम शिक्षा और शिक्षक के असली अर्थ को नहीं समझ पा  रहे है इसी लिए जीवन को कठिनाई  और असमंजस में जी रहे है  आज हम ऐसे व्यक्ति को गुरु मान  रहे है जो हमे रोजगार के लिए शिक्षा दे पैसा कमाने के लिए हमारी डिग्री में अच्छे मार्क्स और अच्छे आचरण के लिए हमारी तारीफ लिखे और इसके लिए माता पिता भी येन केन प्रकारेण  सब कुछ करने को तैयार हो जाते है  यही हम सबसे बड़ी गलती  करते है


https://images.app.goo.gl/StQCCnitzf5bKkod7



 इस तरीके से लोग सफल जरूर हुए है परन्तु उन्हें वक्त   आने पर  बड़ी असफलता देखने को मिली है क्योकि डिग्री और डिप्लोमा रोजगार दे सकता है पैसा कमाने में हमारी मदद कर सकता है परन्तु जीवन जीने और जीवन को संवारने में लोगो को परखने  में अच्छे बुरे वक्त में डिग्री और डिप्लोमा हमारी जितनी मदद नहीं कर सकते उतनी मदद करती  है हमारी नैतिकता हमारा आचरण हमारा व्यवहार जो सिर्फ किताबी ज्ञान से नहीं मिलता बल्कि हमारे पारिवारिक और सामजिक अनुभवों से मिलता है  और इसके लिए शिक्षक सिर्फ वो नहीं होता जो हमे स्कूली शिक्षा में मार्क्स लाने  में हमारी मदद करता है बल्कि गुरु तो वो होता है जो हमे मार्क्स  के साथ- साथ तर्क संगत बात करने के लिए प्रेरित करे  शिक्षा सिर्फ पैसा कमाने के लालच से नहीं दे  बल्कि सामाजिक और पारिवारिक मूल्यों का बोध करने के लिए प्रेरित करे |


https://images.app.goo.gl/tLx47vuomc7UHEUk7

 ऐसे गुरु ऐसे अध्यापक सिर्फ स्कूलों में ही मिले यह जरूरी नहीं ऐसे गुरु तो आपके परिवार में   पड़ोस में  समाज में  भी हो सकते है हर वह व्यक्ति गुरु हो सकता है जो निस्वार्थ पारिवारिक और सामाजिक हित  में अपनी राय  अपने संदेश अपना तजुर्बा देने को तैयार हो निस्वार्थ त्याग करने को तैयार हो असली गुरु वही  होता है जिसके मन में द्वेषता नहीं हो जो सिर्फ एकता की बात ही नहीं करता हो बल्कि वक्त आने पर लोगो को निस्वार्थ एक जुट भी करने की क्षमता रखता हो |


https://images.app.goo.gl/hnPSVvS2YTuxByG37


 आज रोजगार दिलाने वाले गुरु बहुत मिल जायेंगे  पैसा कमाने के हजारो रस्ते बताने वाले गुरु भी बहुत मिल जायेगे  लेकिन पैसा कमा लेने के बाद  मान सम्मान मिलने के बाद उसे बरकरार रखने की सलाह देने वाले गुरु बहुत काम मिलेंगे और जो मिलेंगे उनमे से अधिकतर लालची और स्वार्थी मिलेंगे  आज शिक्षक दिवस के दिन ऐसे गुरु की तलाश करे जो आपको किताबी ज्ञान के साथ साथ दुनियादारी का ज्ञान भी कराये क्योकि किताबी ज्ञान तो आपको सिर्फ रोजगार तक सिमित रखेगा परन्तु दुनियादारी का ज्ञान जीवन भर आपके साथ रहेगा |


 लेख आपको कैसा लगा अपने अमूल्य सुझाव हमे अवश्य दे आर्टिकल यदि पसंद आया हो तो like , share,follow करें | 

No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.