क्यों हम छोटी सी बात पर भी झूठ का सहारा ले लेते है

September 12, 2019
 क्यों हम  छोटी सी बात पर भी झूठ का सहारा ले  लेते है

चाहते  सभी है की आदमी को ईमानदार होना चाहिए सच बोलना चाहिए फिर क्यों हम वक्त आने पर छोटी सी बात पर भी झूठ का सहारा ले  लेते है ? छोटे से फायदे के लिए बेईमान हो जाते है ?  समस्या हर व्यक्ति के सामने आती है परेशानी रोजाना के  जीवन का हिस्सा है  फिर क्यों हम इन्हे झूट सच करके टालने का प्रयास करते है  ?अपने लालच और स्वार्थ के लिए उन्हें टाले  नहीं बल्कि  ईमानदारी दिखाकर उनका मुकाबला करे दुनिया से सच झूठ का असमंजस खत्म हो जायेगा परिवारों में सूख शांति  हो जाएगी | 


कौन सही है और कौन गलत है कौन सच्चा है और कौन झूठा 

सही और गलत सच और झूठ के मुद्दे पर यदि बात की जाए तो सदियां  बीत जाएगी परन्तु हम इन मुद्दों के हल नहीं निकाल पाएंगे  आज सही गलत सच झूठ के मुद्दों पर असमंजस इतना भारी हो चुका है की घर परिवारों से लेकर  किसी भी व्यक्ति के सही गलत होने और सच झूठ के बारे में सच सामने लाना  कठिन  मालूम होने लगा है फर्क इस बात से नहीं पड़  रहा की कौन सही है और कौन गलत है कौन सच्चा है और कौन झूठा है | 
https://images.app.goo.gl/MNg3THLLAmk8fR6J9

आदर्श और ईमानदारी  की बात कोई सुनना  ही पसंद नहीं करता है

 फर्क इस बात से पड़  रहा है की बे- सिर- पैर की बातों में उलझ कर हम सही गलत सच और झूठ  का आंकलन करने लगे हैं आंकलन का यह नजरिया सही को गलत और  गलत को सही साबित कर रहा है सच को झूठ और झूठ को सच साबित कर रहा है असमंजस इतना बढ़ गया है की तर्क तक फेल होने लगे आदर्श और ईमानदारी की बात कोई सुनना  ही पसंद नहीं करता है |
https://images.app.goo.gl/vkTAGzBBjCjVBQPy8

सच झूठ के मसलों पर सहमति बना पाना असंभव

 चार व्यक्तियों के छोटे से परिवार में सही गलत और सच झूठ के मसलों पर सहमति बना पाना असंभव लग रहा है ज़रुरी नहीं की जो व्यक्ति ईमानदार है धार्मिक है सदाचारी है सामाजिक हित  की बात करता है उससे गलती न हो कहीं न कहीं ऐसे व्यक्ति भी इंसान होने के नाते गलतियां कर बैठते हैं परन्तु इसका अर्थ यह नहीं हो जाता की वे हर बात में ही गलत हों परन्तु माहौल ऐसा बन जाता है के ऐसे लोगों की एक छोटी सी  गलती भी बहुत बड़ा प्रश्न चिन्ह खड़ा कर सकती है  |
https://images.app.goo.gl/KAXeTqr8hN8VtXZQ6

 हम  एक ईमनादार सच्चा और सामाजिक व्यक्ति खो देते हैं

 जबकि जो लोग अनैतिकता से बेईमानी से स्वार्थ और लालच में अपना पूरा जीवन गुजार देते हैं उनकी कई गलतियों को अक्सर या तो माफ़ कर दिया जाता है या किसी मजबूरी में भुला दिया जाता है  और ऐसे लोग यदि एक भी अच्छा काम कर देते हैं तो उन्हें लोग मसीहा बना देते  हैं सोच कर देखें ऐसे में उन व्यक्तियों पर क्या बीतती होगी जिन्होंने अपना सम्पूर्ण जीवन सच्चाई और ईमानदारी से जिया हो परन्तु उनकी एक छोटी सी गलती को तूल  देकर  हम  एक ईमनादार सच्चा और सामाजिक व्यक्ति खो देते हैं  |
https://images.app.goo.gl/oXzuPubfgMqsy8GYA
लेख आपको कैसा लगा अपने अमूल्य सुझाव हमे अवश्य दे आर्टिकल यदि पसंद आया हो तो like , share,follow करें | 


No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.