बड़ा हुआ तो क्या हुआ जैसे पेड़ खजूर,मनोरंजनऔर प्रेम ही जीवन है

September 14, 2019


ये कुछ तस्वीरें है जो हास्य विनोद का काम  तो करती है |  परन्तु हास्य विनोद के साथ हमे कुछ संदेश भी देकर जाती है |   मनोरंजन हमारे जीवन जीने के लिए बहुत ही जरूरी है परन्तु उसके माध्यम से दिए गए संदेशो पर भी हमारी नजर पड़नी चाहिए |  ऐसी ही कुछ   तस्वीरें तस्वीरें जो जीवन की हकीकत बयाँ  करती है | 



https://images.app.goo.gl/yqrTSkvwMkS2iCAZ9

 | पानी है लेकिन प्यास नहीं बुझाई जा सकती पैसा हो लेकिन किसी के काम नहीं आ सके  इंसान हो लेकिन किसी के दुख दर्द नहीं बाँट सको एक दूसरे के सुख दुःख में साथ नहीं हो तो   शिक्षित हो लेकिन समझदारी न हो  तो  यही कहा  जायेगा बड़ा हुआ तो क्या हुआ जैसे पेड़ खजूर  पंछी को छाया नहीं फल लागे अति दूर | 



https://images.app.goo.gl/TzpLgidBtdafukg1A

बन्दरों  को नकलची कहा जाता है जैसा आप करते हो वैसा ही वो भी करते है भाई बंदरो को इसी बात की ट्रेनिंग दे रहा है यह मीटिंग इसी लिए बुलाई गई है |



https://images.app.goo.gl/KgTMPg8UEYHFWWD27

चलते चलते बहुत थक   गई हूँ  कुछ देर आराम कर लूँ बुढ़ापा आ गया है मेरा नई जनरेशन में मुझे कोन  पूछता है | और वैसे भी अपनी सेहत का ख्याल तो खुद को ही रखना पड़ता है | किसी को दोष देने से काम नहीं चलता बल्कि अपने दोषो को खुद ढूंढ कर उन्हें दूर करना पड़ता है सोच बदलो दुनिया बदलो |


https://images.app.goo.gl/rfs1LYSCKjXZCSwe8

  मजाक में मत लीजिये तस्वीर  में बच्चा साबित कर रहा है यदि अब भी पानी  बचाने  की नहीं सोचोगे तो तो पानी को ढूंढ़ते ढूंढ़ते पेशाब आ जायेगा लेकिन पानी नसीब नहीं   होगा |  SO SAVE WATER 



https://images.app.goo.gl/2Pz5iErWQ2tpZTUQ8

ये कलयुग है भाई पशु पक्षी प्रेम होना चाहिए परन्तु इतना भी नहीं की हम इंसान और इंसानियत को भूल कर पशु पक्षियों को मात्र हमारे शोक के लिए पाले और ये जताये की हम जानवरो के प्रति दयालुता दिखते है | जानवरों  को पालिये परन्तु दिखावा मत कीजिये |

लेख आपको कैसा लगा अपने अमूल्य सुझाव हमे अवश्य दे आर्टिकल यदि पसंद आया हो तो like , share,follow करें | 


No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.