रानी साहिबा बनकर करें घर परिवार के लोगो पर राज

August 23, 2019



हर किसी का सपना होता है की उसकी बेटी रानी बनकर रहे | हर भाई का सपना होता है उसकी बहन ससुराल में रानी बन कर रहे हर पति चाहता है की उसकी बीबी रानियो की तरह जीवन जिए | हर महिला चाहती है की उसे ऐसा ससुराल मिले जहाँ उसके ठाठ बाट रानियों की तरह हो | परन्तु चाहने से कुछ नहीं होता रानी की तरह जीवन जीने के लिए हर किसी को चाहे वो स्त्री हो या पुरुष क्रोध, ईर्ष्या और द्वेषता से छुटकारा पाना होगा | हताशा , निराशा से निकल कर परिवार में हंसी ख़ुशी का माहौल बनाने के लिए प्रयत्न शील होना पड़ेगा | परिवारों में प्यार मोहब्बत बांटनी पड़ेगी तभी बहन , बेटी , बहू, पत्नि रानी बन कर राज कर सकेगी | घर
https://images.app.goo.gl/9iWF3Vj1oRMJuofQ6
दूसरी बात रानी का असली अर्थ भी समझना होगा रानी का अर्थ यह नहीं की उसे राज महलो की तरह सुख सुविधाएं प्राप्त हो महिला ऊपर से नीचे तक गहनों से लदी हो न ही रानी बनकर या बनाकर रखने का मतलब ये है की महिलाओं के हर काम के लिए नौकर चाकर हो रानी बनकर रहने और रखने का सीधा सा अर्थ तो यह है की महिलाये हंसी ख़ुशी से रहे किसी तरह का अत्याचार उनके साथ न हो उन्हें अबला का जीवन नहीं जीना पड़े
https://images.app.goo.gl/2vj38Yg6418zuzNm8
सुविधाओं की जहां तक बात है एक आम इंसान को आधुनिक युग में जीवन जीने के लिए आवश्यकताओ से लगाया जाना चाहिए न की चकाचोंध से यदि किसी भी बहू बेटी को रानी जैसा जीवन जीना है तो उसे भी रानी जैसा आचरण करना होगा परिवार के लोगो को अपनापन देना होगा लोगो के दिलों पर राज करना होगा सुविधाओ और आवश्यक्ताओं के फर्क को समझना होगा परिवार की तरक्की सुख शांति बनाये रखने में अपना योगदान देना होगा स्त्री स्वतंत्रता का सदुपयोग करना सीखना होगा दुरूपयोग से बचना होगा
https://images.app.goo.gl/jEvWtJtMRYFFSt1f6
यही सब कुछ परिवार के लोगो को भी करना होगा बहू बेटियों को रानी बनाकर रखने के लिए उन्हें भी दकियानूसी विचारो को त्याग कर जहां तक सम्भव हो नई पीढ़ी के साथ तालमेल बिठाना पड़ेगा यदि परिवार के लोग मिलजुल कर अपनी सोच बनाना चाहे तो यह सम्भव है की बहू बेटिया रानी बनकर ही परिवार के लोगो पर राज करें और परिवार के लोग भी रानी साहिबा महसूस करें |
https://images.app.goo.gl/ewnKef2VfbhsdKLYA
लेख आपको कैसा लगा अपने अमूल्य सुझाव हमे अवश्य दे आर्टिकल यदि पसंद आया हो तो like , share,follow करें | 

No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.