कहीं आप जरूरतो को पूरा करने के लिए जिंदगी जीना तो नहीं भूल गए

August 06, 2019
दुनिया में हर व्यक्ति की अपनी जरूरत होती है |  जीवन जीने के  लिए हर आदमी अपनी  जरूरते पूरी  करना चाहता है |  जरूरतों के लिए ही अपना लक्ष्य निर्धारित करता   है| लेकिन सारे जीवन भर कोशिश करने के बावजूद अंतिम समय तक भी उसकी जरूरते पूरी नहीं हो पाती  है |  यह जीवन का सर्वमान्य और सार्वभौमिक सत्य है |
https://images.app.goo.gl/fHpTgt9zm4TTWBvc7

एक आम आदमी की  मूलभूत जरूरत होती है रोटी कपड़ा और मकान लेकिन अब शिक्षा और चिकित्सा को भी इसमें  शामिल करना न्याय ही होगा इन जरूरतों को पूरा करने में आदमी अपना जीवन तक दांव  पर लगा देता है  |  इसके लिए कई झूठ सच करने पड़ते है ,बुरा भला कहना पड़ता है, भूरा भला सुनना  पड़ता है |  कारण इन जरूरतों को पूरा करने के लिए पैसा  कमाना, जो इतना आसान नहीं रह गया |  पैसा सब कुछ तो नहीं परन्तु इसके बिना हम हमारी  आवश्यकताओ की पूर्ति नहीं कर सकते  |  इसलिये  हमारी आज की सबसे बड़ी जरूरत पैसा बन गया है |   जरूरतो  को पूरा करने के लिए लोग जिंदगी जीना तक  भूल गए  | 


https://images.app.goo.gl/MaWHNC5Cz873436NA


  ख़ुशी प्रसन्नता    सकून  जो जीवन के आधार है उन तक  को हम भूल गए इन्हे भी हम आउट ऑफ़ स्टॉक करते जा रहे है   आउट  डेट करते जा रहे है |  आज हमारी जरूरत सिर्फ मूलभूत  आवश्यकताए ही नही  बल्कि प्रसन्नता और  सुकून भी है |  हमे नए सिरे से प्रसन्नता के बीज बोने  पड़ेगे  जिससे सुकून की फसल लहलहाए ताकि लक्ष्मी जी खनकने लगे  | जिंदगी को इस तरह से जिए की कमाए गए पैसो का सकून से आनंद तो ले सके |
Image result for zaroorat quotes in hindi
https://images.app.goo.gl/K4pU9kHbRdks1h5f9


 लेख आपको कैसा लगा अपने अमूल्य सुझाव हमे अवश्य दे आर्टिकल यदि पसंद आया हो तो like , share,follow करें | 

No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.