यह वक्त है बदलता जरूर है शिक्षा और पैसो से कभी रिश्तों की तुलना नहीं करें

August 03, 2019
 दुनिया आज असमंजस में है हर कोई परिवर्तन चाहता है प्रकृति परिवर्तन चाहती है वजह है हमारा असमंजस हमारा भ्रम हम सोचते हैं ऐसा करने से ज़रूर परिवर्तन आएगा लेकिन वैसा करने के बाद नई - नई  समस्याएं और खड़ी हो जाती है और फिर हम उनमे परिवर्तन लाने की आवश्यकता महसूस करते  हैं | 
https://images.app.goo.gl/JAwV7XYT4ZcQgXCu5



आज़ादी से हमारे देश में  परिवर्तन आये लेकिन परिवर्तनों की वजह से नई - नई  सोच , नई - नई समस्या नए - नए किरदार पैदा हो गए |शिक्षा हमेशा जाग्रति लाने का काम करती है शिक्षा से लोगों को जागरूक कर परिवर्तन लाया जाता है आधुनिक शिक्षा की यदि हम बात करें तो शिक्षा के प्रति आज जितने जागरूक हम हुए हैं शायद ही किसी  और विषय पर हमारी  जागरूक  नज़र इतनी  पड़ी है लेकिन क्या आपने सोचा है की इन परिवर्तनों ने हमारे रिश्ते नातो  को भी परिवर्तित कर दिया है ?
https://images.app.goo.gl/WsEMChPu8RBAM3Xc8

 पैसा हमारे जीवन में बहुत बड़ा परिवर्तन ला सकता है लेकिन पैसा कमाने के चक्कर  में हम अपने रिश्ते नातो  को या तो भूल चुके है या परिवर्तित कर चुके है|   शिक्षित होना और पैसा कमाना हर इंसान की आवश्यकता है परन्तु इनके घमंड में चूर होकर हम रिश्ते नातो  को भी भूल जाये  यह शिक्षा द्वारा हमारा  परिवर्तन नहीं है बल्कि यह हमारे द्वारा शिक्षा का परिवर्तन है | जो आज हर किसी को अपने रिश्तो में नजर आने लगा है  | शिक्षा और पैसो से कभी रिश्तों  की तुलना नहीं करें 
https://images.app.goo.gl/CZMNf5vGNcefxoCi8

  शिक्षा पाने और पैसा कमा लेने का आपका उद्देश्य तब पूर्ण होगा जब आप अपने रिश्तों पर प्यार मोहब्बत की चाशनी दुगनी कर देंगे और यह तय है की यह मीठी चाशनी आपको बिल्कुल  नुकसान नहीं पहुँचाएगी  किस्मत और कामयाबी के लिए दुआएँ  बन जाएँगी | इस लिए कभी उच्च शिक्षा लेने के बाद या धनवान बन जाने के बाद इनका अहंकार न पाले अपने रिश्तों को और मजबूत बनाए  जो लोग आपकी शिक्षा और धन सम्पति को देख कर दुखी है उन से भी अपने रिश्ते सामान्य बनाये रखे   क्योंकि  यह वक्त है बदलता जरूर है |

 लेख आपको कैसा लगा अपने अमूल्य सुझाव हमे अवश्य दे आर्टिकल यदि पसंद आया हो तो like , share,follow करें | 

No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.