विनम्रता के जरिये लाया जा सकता है सामाजिक बदलाव

July 02, 2019
  नमस्कार दोस्तों ,
आज के इस माहौल में जहाँ  रिश्ते उलझे हुए है  छोटी छोटी बातो के समाधान निकलने के लिए भी गोली बंदूकों का सहारा लिया जाने लग है पारिवारिक जीवन में रोजाना  की चिक- चिक आम बात हो चुकी है हर कोई एक दूसरे के प्रति जहर  उगल रहे  है ऐसे में क्या आपको नहीं लगता की आज लोगो की सहन शक्ति खत्म हो चुकी है | सहन शक्ति खत्म होने किअसली वजह क्या है ?क्यों लोग जहर उगल रहे है ?  उलझे है रिश्ते ? आखिर बीना गोली बंदूक के क्या हो समाधान ?

   इसलिए जरूरी है जीवन में विनम्रता का भाव होना  

आज छोटी छोटी बातो के हल   निकालने में परेशानिया इस कदर बढ़ चुकी है की जीवन तक दांव पर लग जाते है कोई किसी की बात  सुनने को तैयार  नहीं है सही गलत का हिसाब लगाना आसान नहीं रह गया है जिसकी मुख्य वजह है विनम्रता का अभाव ऐसा लगने लगा है विनम्रता दुनिया से ही गायब हो चुकी हैआज के इस उलझे हुए परिवेश में जहाँ दिलो में नफरत का जहर घुला हुआ है | नफरत को प्रेम में बदलने के लिए  विनम्रता ही एक मात्र साधन है |  विनम्रता  अपने आप में बहुत बड़ी साधना है इसलिए  जीवन में विनम्रता का भाव होना  बहुत ज़रूरी है  | 
https://images.app.goo.gl/jezR4983kxu6dWeQ7
पेड़ों की डालियों  और  घास से भी  सीखी जा  सकती  हैं विनम्रता

 पेड़ों की डालियों से हम विनम्रता सीख सकते हैं ,विनम्रता में झुकने का भाव होता है |  पेड़ो की डालियों पर जब फल लगते है तो वो  झुक जाती है | विनम्रता हम घास से भी सीख सकते हैं |  पानी के बहाव से बड़े से बड़े पेड़ उखड़ जाते हैं लेकिन क्या आपने सोचा है की पानी के बहाव में भी घास अपनी यथा स्थिति बनाये रखती है कारण  है घास की विनम्रता। जब बहाव तेज़ होता है तो घास झुक जाती है |  यही घास की विनम्रता होती है उसी वजह से वह उखड़ नहीं पाती  है |  जबकि पेड़ अडिग होकर खड़े रहते है और तेज़ बहाव से उखड़ जाते हैं  |
https://goo.gl/images/WJJUY3
इसलिए  उठाते है दबंग और निर्दयी लोग अपनी दबंगई का फायदा 

 आज के इस युग में हम  विनम्रता को बुझदिली समझने की गलत फहमी पाले  हुए है |  विनम्र व्यक्तियों को हम कम महत्व देते है |  यही वजह है की दबंग और निर्दयी लोग अपनी दबंगई का फायदा उठाते है और समाज में अपना दबदबा कायम रखते  है  | इसलिए जो लोग झुकने का भाव रखते है विनम्रता दिखाते  है उनका हमे शुक्र गुजर होना चाहिए सम्मान करना चाहिए ताकि विनम्रता के जरिये एक सामाजिक बदलाव लाया जा सके |
https://goo.gl/images/ugpVU6
लेख आपको कैसा लगा अपने अमूल्य सुझाव हमे अवश्य दे आर्टिकल यदि पसंद आया हो तो like , share,follow करें | 



2 comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.