जीवन में स्वाद का महत्व

December 07, 2017

                                          स्वाद 



जीवन में स्वाद  का बड़ा महत्व है|  स्वादिष्ट भोजन हर व्यक्ति को अच्छा लगता है|  यदि भोजन का स्वाद अच्छा नहीं हो तो खाने में मजा नहीं आता है | इसलिए  खाने पीने की चीजों में हम स्वाद  ढूंढते हैं | मिठाई फलाने हलवाई की अच्छी है, जूस फलाने जूस वाले के यहां अच्छा मिलता है, टिकिया फलाने  पंडित की अच्छी लगती है, फास्ट फूड ढिकड़े  फास्ट फूड सेंटर पर लाजवाब  मिलता है आइसक्रीम मुकडे  आइसक्रीम वाले की लाजवाब होती है स्वाद की वजह से ही कई लोगों की पहचान शहर भर में बन जाती है |स्वाद सिर्फ भोजन का ही नहीं जीवन के खट्टे मीठे कड़वे अनुभवों का भी लेना चाहिए


  एक डॉक्टर का अलग स्वाद होता है टीचर का अपना पढ़ाने का अंदाज अलग होता है इंजीनियर का अपना स्वाद  होता है कहने का अर्थ यह की पेशेवर से लेकर व्यसायी  तक हर व्यक्ति अपने हुनर के अनुसार स्वादिष्ट होता है|  जीवन की इस दौड़ में खट्टा , मीठा, नमकीन, कड़वा स्वाद भी अनुभव किया जाता है हर चीज़  का अपना अलग मजा होता है|  लेकिन कड़वा स्वाद शायद  किसी को भी अच्छा नहीं लगता लेकिन जब हम बीमार होते हैं  तो  हमें कड़वे स्वाद से भी रूबरू होना पड़ता है |  और इस कड़वे स्वाद की वजह से हम बीमारी से मुक्त होते हैं |  जिंदगी में भी कई पल हमें कड़वे अनुभव देते हैं जिन्हें हमें ज़हर  समझ कर पीना पड़ता है जो इन्हे ज़हर  समझकर पी लेता है वह उस  सोने की तरह हो जाता है जो आग में तपकर खरा उतरता है |  जो लोग कड़वे स्वाद से डरते हैं वह अपनी बीमारियों को और बढ़ा लेते हैं और फिर एक समय ऐसा आ जाता है जब उसका इलाज संभव नहीं हो पाता|  इसलिए जीवन में कड़वे स्वाद का अनुभव करना भी जरुरी होता है |


जीवन के कड़वे स्वाद  से हमारा तजुर्बा बढ़ता है, संघर्ष करने की क्षमता बढ़ती है, हिम्मत मजबूत होती है, जीवन का नजरिया बदलता है |  भोजन में खट्टे मीठे नमकीन स्वाद से हम भोजन को स्वादिष्ट बना लेते हैं लेकिन इन्हीं स्वादों  को बढ़ाने के चक्कर में हम बीमारियां भी बढ़ा लेते हैं |  किसी को मीठा खाने से समस्या होती है तो किसी को तीखा खाने से |  जो लोग समय - समय पर कड़वे व सात्विक   भोजन का स्वाद लेते हैं उन लोगों को बीमारियां छूकर भी नहीं निकलती है |  उसी प्रकार जिन लोगों के पास जीवन के  कड़वे स्वाद होते हैं वो जीवन में कभी निराश नहीं होते हैं न किसी को निराश होने देते हैं |   

No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.