क्या आप भी अपने सपने पूरा करना चाहते हैं

November 26, 2017

               सपने देखें टूटने पर दुखी न हों दोबारा पूर्ण उत्साह से देखें       

                                                                               हर व्यक्ति के अपने सपने होते हैं |  कोई सोते हुए सपने देखता है कोई जागते हुए। सपने देखना कोई बुरी बात नहीं है किसी का सपना अच्छी नौकरी पाने का होता है, किसी का घर बनाने का ,किसी का प्यार पाने का कोई अपने मां-बाप के लिए कुछ करने का सपना संजोए बैठा है|  तो कोई अपने बच्चों का भविष्य बनाने का सपना देखता है|  कोई सपने राजकुमार के देखता है, कोई राजकुमारी के|  किसी का सपना अमीर बनने का होता है, तो किसी का शरीफ। इंसान जब सपने सोते हुए देखता है तो वह अच्छे बुरे दोनों तरह के सपने देखता है|  लेकिन जागते हुए सपने में एक खास बात होती है जागकर  देखे हुए सपने कभी भी बुरे नहीं देखे जाते हैं|  उनमें ललक होती है, इच्छा शक्ति होती है, इमानदारी होती है, नेक नियति होती है|
                                                                                                                                                                                                                                                           सपने बुनना और उन्हें पूरा करना दोनों अलग-अलग बातें होती है|  अधिकतर लोग अपने सपनों को पूरा करने के लिए पूरी ताकत लगा देते हैं|  लेकिन सपना बहुत कम लोगों का पूरा हो पाता है|  कुछ लोग परिस्थिति वश अपने सपने पूरे नहीं कर पाते कुछ अपने सपनों के लिए किस्मत को दोषी ठहराते हैं|  कोई अपने आप को तो कोई सपना पूरा नहीं होने का ठीकरा दूसरों के सर फोड़ देता है|  जब हम नींद में सपने देखते हैं तो यह सपने वह होते हैं जिनके बारे में हम अक्सर सोचते विचारते रहते हैं|  लेकिन कभी-कभी ऐसे भी सपने होते हैं जो हमें अजीब लगते हैं, विचित्र लगते हैं, कभी-कभी जब लोग सपनों के बारे में दूसरों को बताते हैं तो लोगों को हंसी आती है|  कुछ लोगों को डरावने सपने दिखाई देते हैं,
                                                                                                                                                                                                                                                        किसी के लिए नींद में देखे गए सपने चिंता का कारण बन जाते हैं| तो कोई इन्हें रात गई बात गई कह कर टाल जाता है|  किसी के लिए सपने जीवन का लक्ष्य होते हैं|  जो लोग अपने लक्ष्य को पाने का सपना देखते हैं और उस लक्ष्य को पूरा नहीं कर पाते हैं तो उनके सपने टूट जाते हैं|  और सपने बिखर जाते हैं|  सपने बिखर जाने पर लोग निराश हो जाते हैं|  और अवसाद में घिर जाते हैं|  सपने बहुत कम लोगों के पूरे हो पाते हैं |   इसलिए सपना पूरा नहीं होने पर दुखी न हो| अपने लक्ष्य में क्या कमी रही उस पर विचार करें| नए सिरे से प्रयास करें ,धैर्य रखे, ईमानदारी, मेहनत, लगन से प्रसन्नचित होकर दोबारा सपना बुने और कोशिश जारी रखें आपका सपना कभी ना कभी जरुर पूरा होगा।

No comments:

यदि आपको हमारा लेख पसन्द आया हो तो like करें और अपने सुझाव लिखें और अनर्गल comment न करें।
यदि आप सामाजिक विषयों पर कोई लेख चाहते हैं तो हमें जरुर बतायें।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.